EK TUKDA DHOOP LYRICS – THAPPAD

Ek Tukda Dhoop Lyrics : Sung by Raghav Chaitanya, while the lyrics is penned by Shakeel Azmi and Music by Anurag Saikia. Song from Movie THAPPAD.

Ek Tukda Dhoop Lyrics

टूट के हम दोनो में
जो बचा वो कम सा है
एक टुकड़ा धूप का
अंदर अंदर नम सा है

एक धागे में है उलझे यूँ
के बुनते बुनते खुल गए
हम थे लिखे दीवार पे
बारिश हुई और धुल गए
टूट के हम दोनो में
जो बचा वो कम सा है
एक टुकड़ा धूप का
अंदर अंदर नम सा है

टूटे फूटे ख्वाब की हाए
दुनिया में रेहना क्या
झूट्ठे मूठे वादो की हाए
लहरों में बेहना क्या

हो..दिल ने दिल में ठाना है
खुद को फिर से पाना है
दिल के ही साथ में जाना है

टूट के हम दोनों में
जो बचा वो कम सा है
इक टुकड़ा धूप का
अंदर अंदर नम सा है

सोचों ज़रा क्या थे हम हाय
क्या से क्या हो गए
हिजर वाली रातों की हाय
कब्रो में सो गए

लिरिक्सबोगी.कॉम
हो तुम हमारे जितने थे
सच कहो क्या उतने थे
जाने दो मत कहो कितने थे
रास्ता हम दोनों में
जो बचा वो कम सा है
एक टुकड़ा धूप का
अंदर अंदर नम सा है

टूट के हम दोनो में
जो बचा वो कम सा है
एक टुकड़ा धूप का
अंदर अंदर नम सा है.

Ek Tukda Dhoop Song Credits :-

Song: Ek Tukda Dhoop
Singer: Raghav Chaitanya
Lyrics: Shakeel Azmi
Music: Anurag Saikia

Ek Tukda Dhoop Video Song :-

Leave a Comment

error: Content is protected !!